Kutir Udyog Business Ideas In Hindi - कैसे शुरू करे बिजनेस

Kutir Udyog Business Ideas In Hindi – कैसे शुरू करे बिजनेस

Spread the love

कुटीर उद्योग का अर्थ है कि ऐसे उद्योग जो घर पर शुरु किए जाते है। जिनमें लोग अपने हाथो से काम करते है। उनमें अधिक मशीनो का उपयोग नही किया जाता है।  हालांकि अब कुटीर उद्योग धीरे-धीरे नष्ट होते जा रहे है। चुंकि अब ऐसी कई सारी मशीने बाजार में आ चुकी है, जिनके जरिए उत्पाद को कम समय में तथा सस्ता बनाया जा सकता है।

लेकिन आज भी हम इन मशीनो की तुलना उनके हाथो से नही कर सकते है। इन Kutir Udyog Business में प्रति दिन 500 से 1000 रुपये कमाए जा सकते है।

कुटीर उद्योग को शुरु करने के लिए अधिक निवेश की आवश्यकता नही होती है। आप इस बिजनेस को 10,000 से 1.5 लाख रुपये में शुरु कर सकते है। सरकार भी इन्हे समर्थन प्रदान करता है। इन्हे शुरु करने के लिए लोन भी दिए जाते है।

इसी कारण कई युवा इसी तरह के Kutir Udyog Business Ideas In Hindi की तलाश कर रहे है। इसलिए आज हम कुछ बेहतरीन Kutir Udyog Business Ideas के बारें में जानेंगें।

Kutir Udyog Business क्या है?

कुटीर उद्योग ऐसे उद्योग जिसके उत्पादो का निर्माण घर में किया जाता है। इसके लिए किसी मशीन या बङी जगह की आवश्यकता नही होती है। इस बिजनेस शुरु करने के लिए कुशल कारीगरो की आवश्यकता होती है। इसके अलावा इस बिजनेस को कम पूंजी में भी शुरु किया जा सकता है।

हालांकि ये कुटीर उद्योग पुराने समय में काफी अधिक होते थे लेकिन अब मशीनो के कारण ये कुटीर उद्योग संकट में आ चुके है। जिन्हे बनाए रखने के लिए सरकार कई सारी योजनाए चला रही है तथा ऐसे उद्योगो को शुरु करने के लिए लोन भी दिलाती है।

Kutir Udyog Business Ideas In Hindi

आज इस आर्टिकल में हम 10 से अधिक Kutir Udyog Business Ideas In Hindi के बारें में जानेंगे, जिन्हे आप बहुत ही कम निवेश के साथ शुरु कर सकते है।

मिट्टी के बर्तन बनाने का Kutir Udyog Business

अगर आप एक ऐसे कुटीर उद्योग की तलाश कर रहे है, जिसे बहुत कम निवेश के साथ शुरु किया जा सके तो आप मिट्टी बनाने का कुटीर उद्योग शुरु कर सकते है। इस उद्योग में आप मिट्टी का घङा, सुराई, गिलास, गुलक, कप , प्याली, खिलौने, मूर्ति इत्यादि बनाए जाते है।

इस बिजनेस को शुरु करने के लिए कम निवेश तथा छोटी जगह की आवश्यकता होती है। इसके अलावा बर्तन बनाने की हाथ मशीन की आवश्यकता होती है।

अगरबत्ती और मोमबत्ती का कुटीर उद्योग

अगरबत्ती और मोमबत्ती बनाना काफी सरल है तथा इसका बिजनेस आसानी से शुरु किया जा सकता है और इसमें अधिक निवेश की आवश्यकता नही होती है। इस उद्योग को घर पर शुरु किया जा सकता है तथा इसकी मशीन के लिए 50 से 60 हजार रुपये खर्च होते है।

इसKutir Udyog को शुरु करने के लिए मोमबत्ती तथा अगरबत्ती बनाने के लिए कच्चे माल की तथा एक मशीन की आवश्यकता होती है।

साङी या कपङो का कुटीर उद्योग बिजनेस

अगर हम कपङो की बात करे तो कपङा एक ऐसा उत्पाद या वस्तु है, जिसकी मांग कभी कम नही होती है, इसकी मांग तथा फेशन लगातार बढती रहती है। ऐसे में आप भी इस उद्योग को शुरु कर सकते है।

इस बिजनेस को शुरु कर आप ऑनलाइन कमाई भी कर सकते है। मेरा मतलब है कि आप अपने कपङो को अमेजन तथा फ्लिपकार्ट पर भी बेंच सकते है।

इस बिजनेस को शुरु करने के लिए कच्चे माल को खरीदने की आवश्यकता होती है। जिसे आप अपनी इच्छानुसार ऑर्डर कर सकते है।

नमकीन बनाने का कुटीर उद्योग

आपने देखा होगा कि सभी शादीयो, प्रोग्रामो या पार्टियो में नमकीन होती ही है। क्योंकि इसका स्वाद काफी अच्छा होती है। इस कारण इसकी मांग हमेशा बनी रहती है। आप भी नमकीन बनाने का बिजनेस कर सकते है। हालांकि इस बिजनेस में चुनौती काफी अधिक है। लेकिन आप अपनी नमकीन की गुणवत्ता को अच्छा करके अपना सफल व्यापार खङा कर सकते है।

इस Kutir Udyog को शुरु करने के लिए नमकीन बनाने के कच्चे माल ( बेसन, विभिन्न प्रकार की दाले जैसे मूंग, चना, उङद आदि )। जिसमें बहुत कम खर्चा होता है। इस कारण यह एक अच्छा Kutir Udyog Business In Hindi है।

बेकरी कार्नर का बिजनेस आइडिया

बेकरी कार्नर का बिजनेस अच्छे Kutir Udyog Business Ideas In Hindi में से एक है। क्योंकि बेकरी उत्पादो का उपयोग हर रोज नास्ते के रुप में होता है। इसमें बहुत कम निवेश की आवश्यकता होती है तथा किसी प्रकार की मशीन की जरुरत नही होती है। इसके सभी उत्पादो को हाथो द्वारा बनाया जाता है। लेकिन अब इन्हे पकाने के लिए मशीनो का उपयोग किया जाता है।

इस बिजनेस को शुरु करना काफी आसान है तथा कम निवेश में शुरु कर सकते है। लेकिन इस बिजनेस को शुरु करने के लिए बेकरी उत्पादो की जानकारी होना आवश्यक है।

साबुन बनाने का कुटीर उद्योग

साबुन बनाने का बिजनेस भी Best Kutir Udyog In Hindi में से क्योंकि साबुन को हाथो से बनाया जा सकता है। इस बिजनेस को शुरु करना आसान है। इस कुटीर उद्योग को शुरु करने के लिए सरकार भी सहयोग देती है। सरकार इस उद्योग को शुरु करने के लिए 25 लाख रुपये तक का लोन प्रदान करती है।

इसके अलावा इस उद्योग को शुरु करने के लिए व्यक्तियो को 3 से 6 महिने तक प्रशिक्षण भी देती है।

इस बिजनेस को शुरु करने के लिए कच्चे माल के रुप में कास्टिक सोडा, तेल, एसेंस आटा, आदि की आवश्यकता होती है।  इसके अलावा साबुन को आकार देने के लिए एक मशीन की भी आश्यकता होती है।

फर्नीचर बनाने का कुटीर उद्योग

फर्नीचर बनाने का उद्योग भी काफी अच्छा कुटीर उद्योग है, चुंकि फर्नीचर का उपयोग हर घर में अलग अलग रुपो में होता है। जिसके पैसे भी काफी अच्छे मिलते है। इस बिजनेस को शुरु करना काफी आसान है।

इस बिजनेस को शुरु करने के लिए फर्नीचर निर्माण के लिए कच्चे माल के रुप में लकङीयो की तथा फर्नीचर बनाने के लिए कुछ औजारो की आवश्यकता होती है। इस उद्योग में मशीनो का उपयोग बहुत कम होता है। इस बिजनेस को शुरु करने के लिए फर्नीचर बनाने का हुनर होना आवश्यक है।

मसाला बनाने का बिजनेस

मसालो का उपयोग प्रत्येक घर तथा प्रतिदिन खाद्य पदार्थो के रुप में होता है। मसाला बनाने के बिजनेस में हल्दी, मिर्च, धनिया इत्यादि को पाउंडर के रुप में बनाना शामिल होता है। कुछ पहले मसाले बनाने के लिए हाथ चक्की का इस्तेमाल किया जाता है। किंतु अब इसके लिए मोटर लगी मशीनो का उपयोग किया जाता है।

इस बिजनेस को शुरु करने के लिए इलेक्ट्रिक चक्की की आवश्यकता होगी, जिसकी कीमत 30 से 80 हजार रुपये है। इसके अलावा आप हाथ चक्की की सहायता से भी इस बिजनेस शुरु कर सकते है।

पापङ व आचार बनाने का Business Idea

पापङ व आचार का बिजनेस घर पर भी शुरु किया जा सकता है। इस Kutr Udyog को शुरु करने के लिए किसी प्रकार की मशीन की आश्यकता नही होती है और इस बिजनेस को आसानी से शुरु किया जा सकता है। इस बिजनेस में खङा होने के लिए आवश्यक है कि आपके पापङ स्वादिष्ट हो।

इस बिजनेस को शुरु करने के लिए न मशीन की आवश्यकता होती है न ही अधिक निवेश की। इस उद्योग को आप अपने घर से भी शुरु कर सकते है।

मुर्गीपालन का कुटीर उद्योग

आज के समय में लोग मुर्गियो के मांस तथा अंडो का उपयोग भोजन के रुप में करते है। इस कारण इसकी मांग लगातार बढती रहती है। मुर्गीपालन का बिजनेस में काफी फायदेमंद होता है।

मुर्गीपालन करने के लिए कई सारे पॉल्ट्री फोर्मो का निर्माण हुआ है। जहां उच्च नस्लो की मुर्गियो को पाला जाता है। वर्तमान समय में मुर्गीपालन के लिए कई सारी नई तकनीको का उपयोग भी किया जाता है।

मुर्गीपालन करना काफी आसान है। इस बिजनेस को शुरु करने के लिए अच्छी नस्लो की मुर्गीयो का चुनाव कर उनकी अच्छी तरह पालन पोषण करे। मुर्गी द्वारा अंडे प्राप्त कर 60 से 80 हजार रुपये का मुनाफा कमाया जा सकता है।

गाय, भेङ और बकरी का पालन

आप मुर्गी की तरह गाय, भेड तथा बकरी का पालन भी कर सकते है। इनके पालन पोषण के लिए भी कई सारी नयी तकनीको का विकास हो चुका है। जिससे कम समय में अधिक मुनाफा कमाया जा सकता है। इनके पालन द्वारा कई सारे लोग लाखो रुपये कमा रहे है।

आइस्क्रीम बनाने का बिजनेस आइडिया

ऐसे बहुत कम लोग होते है, जिन्हे आइस्क्रीम पसंद नही होती है। आइस्क्रीम को मीठे का राजा भी कहा जाता है। इस बिजनेस को शुरु करने के लिए न किसी बङे कारखाने की आवश्यकता है न ही अधिक निवेश की आवश्यकता होती है। आप भी यूट्यूब की सहायता से आइस्क्रीम बनाकर बेंच सकते है तथा पैसे कमा सकते है।

आइस्क्रीम बनाने का बिजनेस शुरु करने के लिए आइस्क्रीम बनाने के कच्चे माल जैसे दूध पाउंडर, क्रीम, चीनी, मक्खन, चॉकलेट और अंडे, क्लर पाउंडर तथा फ्लेवर पाउंडर आदि की आवश्यकता होती है।

कुटीर उद्योग के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाता है

अपने कुटीर उद्योग का रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्यक है। चूंकि रजिस्ट्रेशन कराए हुए उद्योग को सरकारी योजनाओ का लाभ मिलता है। इसके जरिए आप अपने उद्योग के लिए लोन भी ले सकते है और अपने ग्राहको को पक्का बिल उपल्बद्ध करवा सकते है। अपने कुटीर उद्योग का रजिस्ट्रेशन SSAI द्वारा किया जा सकता है। अपने उद्योग के रजिस्ट्रेशन के लिए कुछ पहचान डॉक्यूमेंट का होना आवश्यक है तथा आपको अपने बिजनेस के लिए बारें में बताना होगा।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.